Monday, July 23, 2018

थाईलैंड मे मौत की गुफा से बच्चो को बहार निकल ने वाले नायको की कहनी

सभी 12 बच्चे और उनके कोच को थाईलैंड की गुफा से निकला जा चुका है!

संकीर्ण और डरावनी सड़कों से बच्चो बहार निकलना कभी कठिन था

ऑक्सीजन का स्तर भी बहुत कम था

इन सभी चीजों को ध्यान में रखते हुए, शुरुआत में यह कहा गया था कि बच्चों को बाहर निकलने में महीनों लग सकते हैं।

गुफा में ऑक्सीजन सिलेंडर देने जाने वाले एक तैराक की मौत भी हो चुकी थी

जिस आधार पर स्थिति की गंभीरता को समझा जा सकता है। कई कठिनाइयों के बावजूद, वे सभी तीन दिनों में बच्चो को सुरक्षित रूप से बाहर निकल लिया गया था!

एक टीम ने इस सफलता को हासिल करने के लिए काम किया, जो इस ऑपरेशन के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध ।

टीम के नायको ने इस असम्भव लगने वाले मिसं को सम्भव बना दिया

जॉन वालंटन, रिचर्ड स्टैंटन और रॉबर्ट चार्ल्स हार्पर

ये तीन 'गुफा विशेषज्ञ' हैं।

मैंने स्टैंटन से पहले फायर ब्रिगेड में भी काम किया है। तीनों ने नॉर्वे, फ्रांस और मेक्सिको में बचाव कार्य किया है।

सुमन गुआन

सुमन गुआन वो पहले व्यक्ति थे जिन्होने नो दिनो बाद पहेली बार बच्चो की अवाज सनी थी वो ओक्सिजन सिलिंडर देने केलिए गये थे और वापस लोटते समय ओक्सिजन की कमी के कारन उसकी मौत हो गई थी
  उन्होने नेवी से निकरी छोड दी थी लेकिन बच्चो को बचने केलिए वो आये थे उनका अन्तिम संकार राजकिय संमान के साथ किया गया था

डॉक्टर रिचर्ड हैरिस

ऑस्ट्रेलिया के रिचर्ड रिचर्ड हैरिस को दशकों से अधिक डाइविंग अनुभव है।

गुफा में बच्चों की जांच करने के बाद, उन्होंने एक हरा सिग्नल दिया, जिसके बाद बचाव अभियान शुरू किया गया था।

नौ दिनों के लिए कुछ भी खाने के बिना बच्चे कमजोर थे, डाइविंग के कारण वे उनसे बाहर निकलने के लिए खतरनाक था

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, डॉक्टर हैरिस ने ऑस्ट्रेलिया, चीन, क्रिसमस द्वीप और न्यूजीलैंड में बचाव कार्य किया है।

बेन रेमंडिस

बेल्जियम के बेन रेइमिंट्स फुकेत में डाइविंग व्यवसाय करते हैं।

ऐसा कहा जाता है कि बचाव के पहले दिन, उन्होंने पहली बार गुफा में बच्चों की खोज की।

क्लॉस रेसमिशन

डेसमंड, जो स्कूलों में डाइविंग सिखाता है, एक डाइविंग कंपनी में प्रशिक्षक के रूप में भी काम करते थे

वह कई एशियाई देशों में डाइविंग कर चुके थे

मिको पासी

फ़िनलैंड के मिको पासी तकनीकी डाइविंग में शक्तिशाली थे। जब वो इस बचाव अबियं मे सामिल हुवे उसी दिन उसकी सादी की 8 वी सालगिरह थी

इवान कार्डज़ी

इवान थाईलैंड में एक डाइविंग सेण्ट चलाते है।

उन्होंने बीबीसी को बताया कि जब उन्होंने गुफा में बच्चों को देखा तो उन्हें एहसास नहीं हुआ कि वह जीवित है या नहीं।

हालांकि, वह जीवित और सुरक्षित देखकर राहत में सांस ली थी।

एरिक ब्राउन

कनाडा का एरिक ब्राउन एक तकनीकी चालक है और उसने मिस्र में एक डाइविंग स्कूल भी खोला है।

मंगलवार की रात को, उन्होंने फेसबुक पर कहा कि उन्होंने पिछले नौ दिनों में सात डाइविंग मिशन पूरे किए थे।

थाई नौसेना और डॉक्टर

थाईलैंड की नौसेना ने अपने फेसबुक अकाउंट पर एक वीडियो साझा किया, जिसमें डॉक्टर लोअरेशन एक बच्चे के घाव में दवाएं लगा रहा है।

अंततः थाईलैंड नौसेना के सैनिक मंगलवार की शाम को गुफा से बाहर निकले, जब वे सभी सुरक्षित रूप से बाहर लाए गए।

No comments:

Post a Comment