Friday, July 27, 2018

MANAV SARIR NI MAJEDAR VATO

शरीर से जुड़े Interesting facts जो ज्यादातर लोग नहीं जानते

हर इंसान के शरीर के अंदर लगभग 62,000 मील (mile) की रक्त धमनियां (Blood vessels) होती हैं. अगर इन्हें एक-दूसरे से जोड़ा जाये तो ये पूरी पृथ्वी के लगभग ढाई चक्कर लगा सकती हैं.

क्या आप जानते है की हमारे पसीने में किसी तरह की कोई बदबू नहीं होती है. ये तो बैक्टीरिया (Bacteria) का कमाल है जो पसीने के साथ मिलकर दुर्गंध पैदा करते हैं.

हमारी बीच की उंगली यानि की Middle Finger के नाखून हमारी बांकी उंगलियों के नाखूनों की तुलना में ज्यादा तेजी से बढ़ते हैं.

कान और नाक हमारे शरीर के ऐसे अंग है जो जिन्दगी भर बढ़ते रहते हैं

हमारे मुंह में बैक्टीरिया (Bacteria) की संख्या पूरी दुनिया में रह रहे लोगों की तुलना में अधिक है.

एक सामान्य उम्र का व्यक्ति अपनी पूरी लाइफ में पृथ्वी के लगभग पांच चक्कर लगा लेता है.

हर इंसान का दिल (Heart) रोजाना लगभग 100,000 बार धड़कता है.

हाल ही में एक शोध में पाया गया है की बिल्ली (cat) पालने से हार्ट अटैक (Heart attack) आने का risk कम हो जाता हैं.

अगर 5 minute के लिए भी हमारे दिमाग तक ऑक्सीजन (oxygen) न पहुंचे तो brain damage हो सकता है.

शराब पीने के दौरान हमें ज्यादातर बाते इसलिए याद नहीं रहती क्योकि उस समय हमारा दिमाग मेमोरी (memory) को ठीक से फॉर्म ही नहीं कर पाता है.

हमारे Brain का स्टोरेज अनलिमिटेड होता है. यह हमारे कंप्यूटर या फ़ोन की RAM की तरह नहीं भरता है .
किसी भी इंसान ले लिए आँखे बंद करे बिना छींकना लगभग असंभव है

इंसान अपनी जिन्दगी का लगभग 30% समय सोते हुए बिताता है.

सिर्फ एक घंटे हैडफ़ोन लगाने से हमारे कान में बैक्टीरिया की संख्या लगभग 100 गुना तक बढ़ जाती है.

कोई भी इंसान चाह कर भी अपनी सासें खुद नहीं रोक सकता.

हमारे पेट में बनने वाला अम्ल (acid) इतना तेज होता है कि वह ब्लेड को भी आसानी से गला सकता है।

इंसान के शरीर के भार (weight) का लगभग दो-तिहाई भार सिर्फ पानी का है। इसमें खून का 92 % पानी, मस्तिष्क (Brain) का 75 % पानी और मांसपेशियों का 75 % पानी शामिल होता है

हम कोई भी वस्तु अपनी आँखों से नहीं बल्कि अपने दिमाग की मदद से देख पाते है. आँख सिर्फ इनफार्मेशन को लेने का काम करती है और हमारे दिमाग तक पहुचाती है.

जब कोई इंसान पैदा होता है तो उसके शरीर में करीब 300 हड्डियाँ होती है लेकिन 18 साल की ऊम्र तक पहुचते पहुचते उसके शरीर में हड्डियों की संख्या 206 हो जाती है.

No comments:

Post a Comment