Sunday, September 16, 2018

Azim Premji एक ऐसा ही नाम है जिहोने WIPRO के जरिये Indian IT industry को बुलंदियों पर पहुंचा दिया

Azim Premji  एक  ऐसा  ही  नाम  है  जिहोने  WIPRO के  जरिये  Indian IT industry को  बुलंदियों  पर पहुंचा  दिया

Azim premji की  Family History
Azim Premji  का जन्म 24 जुलाई 1945 को Mumbai में हुआ। उनके पिता Famous Businessman  थे , विभाजन के बाद मोहम्मद  जिन्नाह ने उनके पिता को पाकिस्तान आने का न्योता दिया था पर उन्होंने उसे ठुकराकर भारत में ही रहने का फैसला किया। सन 1945 में अजीम प्रेमजी के पिता मुहम्मद हाशिम प्रेमजी ने महाराष्ट्र के जलगाँव जिले में ‘Western Indian Vegetable  Products Limited WIPRO ’ की स्थापना की।

उनके पिता ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए उन्हें अमेरिका के स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय भेजा पर  इसी बीच उनके पिता की मौत हो गयी और इनको  इंजीनियरिंग की पढ़ाई बीच में ही छोड़कर भारत वापस आना पड़ा।

भारत वापस आकर उन्होंने कंपनी का कारोबार संभाला और इसका विस्तार द्दोसरे क्षेत्रों में भी किया।  और कंपनी का नाम बदलकर विप्रो कर दिया।  उन्होंने  I.T. क्षेत्र पर ध्यान केन्द्रित किया और विप्रो इंडिया की बेस्ट आईटी कंपनी बन गयी |

व्यक्तिगत जीवन

अजीम प्रेमजी का विवाह यास्मीन के साथ हुआ और उनके  दो पुत्र हैं – रिषद और तारिक। रिषद को ‘डायरेक्टर ऑफ़ विप्रो ‘ बनया गया है |

उपलब्धियां

सन 2010 में, अजीम प्रेमजी ने देश में स्कूली शिक्षा में सुधार के लिए लगभग 2 अरब डॉलर दान करने का वचन दिया।

उन्होंने अपनी कुल संपत्ति का लगभग 25 प्रतिशत दान में दे दिया है और 25 प्रतिशत अगले पांच सालों में करेंगे.

अवार्ड्स

2015 -में मैसोर विश्वविद्यालय ने उन्हें डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित किया

2013- Asian Business Leaders, Corporate Citizen of the Year, Life Time Achievement

2012- Legion of Honor, Outstanding Philanthropist of the Year

2011- पद्म  विभूषण

2005 -पद्म  भूषण

अज़ीम प्रेम जी का कहना है
“अगर लोग आपके Goal पर नहीं हस रहे तो अपने Goalबहुत छोटे हैं ” .हम भी इन महानायक  से प्रेरणा ले की ज़िंदगी में किसी भी बढ़ी success को पाने के लिए कड़ी मेहनत , लगातार लम्बे समय के अभ्यास की ज़रूरत होती है |

No comments:

Post a Comment